26.2 C
Chhattisgarh
Wednesday, December 8, 2021

बीएन गोल्ड कम्पनी के डायरेक्टर गिरफ्तार, अलग अलग जिलो में है 17 एफआईआर दर्ज..

०० चिटफंड के दो आरोपी गिरफ्तार करने में बिलासपुर पुलिस को मिली सफलता..

०० बीएन गोल्ड कंपनी के विरुद्ध छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिलों में 17 अपराध हैं दर्ज..

 

बिलासपुर – चिटफंड के नाम पर जनता का पैसा हड़पने वाले बी एन गोल्ड कंपनी के डायरेक्टर को बिलासपुर पुलिस ने पकड़ने में सफलता हासिल की है.. दरअसल छत्तीसगढ़ शासन द्वारा चिटफंड के मामलों में फरार आरोपियों की धरपकड़ के लिए सख्त निर्देश दिए गए हैं.. बिलासपुर जिले में अभी हजारों लोगों ने चिटफंड कंपनियों में पैसा लगाया था कई ऐसे चिटफंड कंपनी के लोग हैं.. जो फरार हो गए हैं.. जिनकी तलाश पुलिस सरगर्मी से कर रही है.. बिलासपुर की तखतपुर पुलिस ने बी एन गोल्ड कंपनी के डायरेक्टर को पकड़ने में सफलता हासिल की है।

मामले का खुलासा करते हुए बिलासपुर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक झा ने बताया कि.. बी एन गोल्ड द्वारा प्रदेशभर के अलग-अलग जिलों में लोगों को लाखों करोड़ों का चूना लगाया गया है और इस कंपनी के डायरेक्टर के खिलाफ अलग-अलग 17 जिलों में अपराध भी दर्ज हैं आरोपियों को खोजने के लिए टीम बनाकर महाराष्ट्र के पुणे रवाना किया गया था जहां आरोपी अनिल शर्मा और आनंद निर्मलकर को हिरासत में लिया गया.. बीएन गोल्ड कंपनी के विरुद्ध जिले में तारबहार और तखतपुर में अपराध दर्ज है.. बीएन गोल्ड कंपनी के विरुद्ध जिले में दो एवं राज्य में कुल 17 अपराध दर्ज हैं , जिसमें ठगी गई रकम लगभग 21 करोड रुपए हैं.. इसमें आरोपी अनिल शर्मा व आनंद निर्मलकर कई वर्षों से फरार थे.. बीएन गोल्ड कंपनी के विरुद्ध कांकेर में एक महासमुंद में एक सरगुजा में तीन मुंगेली में एक बलोदा बाजार में एक कोरबा में एक बेमेतरा में दो रायपुर में एक बालोद में दो पेंड्रा में एक अपराध दर्ज है।

आरोपी आनंद निर्मलकर का पूर्व में 25 लाख रुपए की संपत्ति चिन्हित कर कुर्की कार्य हेतु कलेक्टर बिलासपुर और कलेक्टर जांजगीर को पत्राचार किया गया है जो प्रक्रियाधीन है..
बीएन गोल्ड कंपनी के अचल संपत्तियों की अनुमानित कीमत लगभग 25 लाख रुपए चिन्हित कर कुर्की हेतु प्रक्रियाधीन है.. इसी प्रकार कोरबा में स्थित अचल संपत्ति अनुमानित कीमत 30 लाख चिन्हित कर कार्रवाई हेतु कलेक्टर को प्रेषित किया गया है.. आरोपी अनिल शर्मा की अचल संपत्ति ग्राम तरपोंगी तथा रायपुर में चिन्हित की गई है, जिसमें आगे विधिवत कार्यवाही की जाएगी.. गिरफ्तार आरोपियों से बारीकी से पूछताछ कर उनके नाम से ज्ञात अन्य संपत्तियों का भी चिन्हांकन कर अग्रिम कार्यवाही की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2,466FansLike
5,083FollowersFollow
2,492FollowersFollow
1,890SubscribersSubscribe

Latest Articles

०० चिटफंड के दो आरोपी गिरफ्तार करने में बिलासपुर पुलिस को मिली सफलता..

०० बीएन गोल्ड कंपनी के विरुद्ध छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिलों में 17 अपराध हैं दर्ज..

 

बिलासपुर – चिटफंड के नाम पर जनता का पैसा हड़पने वाले बी एन गोल्ड कंपनी के डायरेक्टर को बिलासपुर पुलिस ने पकड़ने में सफलता हासिल की है.. दरअसल छत्तीसगढ़ शासन द्वारा चिटफंड के मामलों में फरार आरोपियों की धरपकड़ के लिए सख्त निर्देश दिए गए हैं.. बिलासपुर जिले में अभी हजारों लोगों ने चिटफंड कंपनियों में पैसा लगाया था कई ऐसे चिटफंड कंपनी के लोग हैं.. जो फरार हो गए हैं.. जिनकी तलाश पुलिस सरगर्मी से कर रही है.. बिलासपुर की तखतपुर पुलिस ने बी एन गोल्ड कंपनी के डायरेक्टर को पकड़ने में सफलता हासिल की है।

मामले का खुलासा करते हुए बिलासपुर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक झा ने बताया कि.. बी एन गोल्ड द्वारा प्रदेशभर के अलग-अलग जिलों में लोगों को लाखों करोड़ों का चूना लगाया गया है और इस कंपनी के डायरेक्टर के खिलाफ अलग-अलग 17 जिलों में अपराध भी दर्ज हैं आरोपियों को खोजने के लिए टीम बनाकर महाराष्ट्र के पुणे रवाना किया गया था जहां आरोपी अनिल शर्मा और आनंद निर्मलकर को हिरासत में लिया गया.. बीएन गोल्ड कंपनी के विरुद्ध जिले में तारबहार और तखतपुर में अपराध दर्ज है.. बीएन गोल्ड कंपनी के विरुद्ध जिले में दो एवं राज्य में कुल 17 अपराध दर्ज हैं , जिसमें ठगी गई रकम लगभग 21 करोड रुपए हैं.. इसमें आरोपी अनिल शर्मा व आनंद निर्मलकर कई वर्षों से फरार थे.. बीएन गोल्ड कंपनी के विरुद्ध कांकेर में एक महासमुंद में एक सरगुजा में तीन मुंगेली में एक बलोदा बाजार में एक कोरबा में एक बेमेतरा में दो रायपुर में एक बालोद में दो पेंड्रा में एक अपराध दर्ज है।

आरोपी आनंद निर्मलकर का पूर्व में 25 लाख रुपए की संपत्ति चिन्हित कर कुर्की कार्य हेतु कलेक्टर बिलासपुर और कलेक्टर जांजगीर को पत्राचार किया गया है जो प्रक्रियाधीन है..
बीएन गोल्ड कंपनी के अचल संपत्तियों की अनुमानित कीमत लगभग 25 लाख रुपए चिन्हित कर कुर्की हेतु प्रक्रियाधीन है.. इसी प्रकार कोरबा में स्थित अचल संपत्ति अनुमानित कीमत 30 लाख चिन्हित कर कार्रवाई हेतु कलेक्टर को प्रेषित किया गया है.. आरोपी अनिल शर्मा की अचल संपत्ति ग्राम तरपोंगी तथा रायपुर में चिन्हित की गई है, जिसमें आगे विधिवत कार्यवाही की जाएगी.. गिरफ्तार आरोपियों से बारीकी से पूछताछ कर उनके नाम से ज्ञात अन्य संपत्तियों का भी चिन्हांकन कर अग्रिम कार्यवाही की जाएगी।